क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज का नया तरीका, अब ऐसे हो रहा व्यापार

क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज का नया तरीका, अब ऐसे हो रहा व्यापार

आर.बी.आई. के निर्देश के बाद लगभग बंद होने के कगार पर क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज हार मानने को बिल्कुल तैयार नहीं। क्रिप्टोकरेंसी ने एक ऐसा तरीका ढूंढ लिया है जिससे आप बिटकॉइन में न सिर्फ निवेश कर सकते हैं बल्कि आप आसानी से ट्रांजैक्शन भी कर सकते हैं।

क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज जेबपे ने हाल ही में क्रिप्टो-टू-क्रिप्टो ट्रेडिंग की शुरूआत की है। यानि आप बिटकॉइन के बदले इथेरियम खरीद सकते हैं। जल्द ही एक्सचेंज कई और क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेडिंग शुरू करना चाहता है। कॉइनेक्स पर तो आप 23 तरह की क्रिप्टोकरेंसी के बीच बिना अतिरिक्त फीस के ट्रेड कर सकते हैं।

आर.बी.आई. के निर्देश के बाद सभी बैंकों ने क्रिप्टो करेंसी के लिए इलेक्ट्रॉनिक ट्रांजैक्शन और डेबिट-क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है लेकिन क्रिप्टो एक्सचेंज अब यूपीआई और भीम प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर रहे हैं। दरअसल आर.बी.आई. का नियम बैंकों को क्रिप्टो एक्सचेंज के लिए ट्रांजैक्शन से मना करता है लेकिन मोबाइल वॉलेट को नहीं।

जेबपे ने हाल ही में यूपीआई प्लेटफॉर्म से पैसे लेना शुरू किया है। जिसमें पेटीएम और गूगल तेज जैसे ऐप शामिल हैं। यहां आप बिना बैंक अकाउंट के भी पेमेंट कर पाएंगे। यूनोकॉइन भी ऐसी ही व्यवस्था लेकर आया है। कुछ एक्सचेंज तो ग्राहकों को पैसे की जगह गिफ्ट कार्ड्स ले रहे हैं जैसे अमेजॉन, गूगल प्ले, आईट्यून्स के कार्ड। हालांकि लगभग सभी क्रिप्टो करेंसी में मंदी जारी है लेकिन इन एक्सचेंज को अब भी उम्मीद है कि उनके ग्राहक उसके साथ बने रहेंगे।

संबंधित पोस्ट