एफएम चैनलों को स्वच्छता की सेवा पर देना होगा जोर

एफएम चैनलों को स्वच्छता की सेवा पर देना होगा जोर

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा उनके मन की बात में शुरू किए गए स्वच्छता की सेवा अभियान पर पर्याप्त ध्यान देने के लिए सभी निजी टेलीविजन चैनलों, एफएम चैनलों और रेडियो स्टेशनों से अनुरोध किया गया है। सार्वजनिक हित और इस मामले के महत्व को ध्यान में रखते हुए, सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने मीडिया से अनुरोध किया है कि वे अपने प्रोग्रामिंग में इस अभियान का विचार तैयार करें ताकि इस संदेश को अधिकतम दर्शकों तक पहुँचाया जा सके।

आकाशवाणी पर अपने प्रसारण में, मोदी ने राष्ट्र को 15 सितंबर, 2017 से गांधी जयंती 2 अक्टूबर 2017 तक स्वच्छता ही सेवा  (एसएचएस) अभियान चलाने का आह्वान किया था। उन्होंने कहा कि इस अभियान का उद्देश्य स्वच्छता पर विशेष रूप से ध्यान केंद्रित करना और एक जन आन्दोलन के रूप में पूरे देश में स्वच्छता का माहौल तैयार करना। टीवी, एफएम और सामुदायिक रेडियो चैनलों जैसे सात विभिन्न संगठनों को यह अनुरोध भेजा गया। ये हैं – न्यूज़ ब्रॉडकास्टर्स ऐसोसिएशन (एनबीए), इंडियन ब्रॉडकास्टिंग फाउंडेशन (एलबीएफ), ऐसोसिएशन ऑफ रीजनल टेलीविज़न ब्रॉडकास्टर्स ऑफ इंडिया, ऐसोसिएशन ऑफ रेडियो ऑपरेटर्स फॉर इंडिया (एआरआई), कम्युनिटी रेडियो ऐसोसिएशन (सीआरए), फेडरेशन ऑफ कम्युनिटी रेडियो स्टेशन (एफसीआरएस) और कम्युनिटी रेडियो फोरम ऑफ इंडिया।

संबंधित पोस्ट