पहली नजर का प्यार या लालसा

पहली नजर का प्यार या लालसा

क्या आपको लगता है कि पहली नजर में वाकई किसी को प्यार होता है, या हो सकता है कि वो सिर्फ लालसा हो? इसी को लेकर एक सर्वे किया गया जिसमें बताया गया है कि चार में तीन लोग पहली नजर में हुए प्यार पर विश्वास करते हैं। सर्वे में ये भी सामने आया कि 61% महिलाएं पहली नजर के प्यार पर विश्वास करती हैं लेकिन 30-40 साल की उम्र के लोग इस बात पर विश्वास नहीं रखते।

डेटिंग साइट के द्वारा किए गए इस सर्वे के अनुसार, 84% नौजवान जिनकी उम्र 18-29 के बीच है उनका मानना है कि पहली नजर में प्यार संभव है लेकिन 30 से ज्यादा उम्र के 65% लोग इस बात को नहीं मानते।

साइकोलॉजिस्ट सलमा मरीन ने कहा, ‘जब आपको इसका अनुभव होता है तो आपको पता चलता है कि ये सच्चा है और जब प्यार हो जाता है तो आपको लगेगा कि ये फीलिंग आपको दोबारा नहीं आ सकती।’

उन्होंने आगे कहा, ‘ऐसा तब होता है जब आप अपने काम में व्यस्त होते हैं और इस बात की अपेक्षा भी नहीं करते।’

मैच डॉट कॉम की एक अलग अध्ययन के अनुसार, 41% मर्द और 29% महिलाओं ने बताया कि उन्हें पहली नजर में प्यार हो गया था।

रिलेशनशिप विशेषज्ञ निकोल का मानना है कि पहली नजर में किसी को प्यार नहीं होता बल्कि वो सिर्फ एक लालसा होती है। उन्होंने कहा, ‘पहली नजर में लोगों को शारीरिक आकर्षण हो सकता है और उसे प्यार का नाम देना गलत होगा।’

उनके अनुसार, प्यार एक गहरा संबंध है इसमें आपको उस व्यक्ति की चिंता होने लगती है जो सिर्फ किसी को देखते ही संभव नहीं है। हालांकि आपकी लालसा बाद में जरूर प्यार का रूप ले सकती है।

संबंधित पोस्ट