Google I/O 2018: गूगल असिस्टेंट हुआ और भी स्मार्ट, जोड़े गए ये नए फीचर्स

Google I/O 2018: गूगल असिस्टेंट हुआ और भी स्मार्ट, जोड़े गए ये नए फीचर्स

केलिफोर्निया में 8 मई से 10 मई के बीच चलने वाले गूगल के वार्षिक कांफ्रेंस में कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदर पिचाई ने गूगल असिस्टेंट को लेकर बड़ी घोषणाएं की हैं। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पावर असिस्टेंस के क्षेत्र में माइक्रोसॉफ्ट से मिल रही कड़ी टक्कर के बीच गूगल ने अपने गूगल असिस्टेंस में कई बदलाव किए हैं।

जोड़ी गई 6 नई आवाजें : गूगल ने मंगलवार को घोषणा की कि लोगों को जल्द ही “गूगल असिस्टेंस” से बात करने के लिए संगीतकार जॉन लीजेंड सहित 6 आवाज़ों में से एक आवाज चुनने का विकल्प मौजूद होगा। वार्षिक डेवलपर सम्मेलन Google I / O में, कंपनी ने कहा कि इन छह विकल्पों में, जिसमें पुरुष और महिला दोनों की आवाज़ें हैं, इस वर्ष के अंत में शुरू हो जाएंगी। कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदर पिचई ने कहा कि गूगल अपने वॉयस असिस्टेंस में प्राकृतिक आवाज जोड़ने पर काम कर रहा है जो इंसानों की तरह ही बातचीत कर सकेंगे। इन सुधारों में बातचीत के दौरान प्राकृतिक विराम लगाना प्रमुख है जिसके जरिए ऐसा प्रतीत होगा की आप इंसानों से ही बात कर रहे हैं।

वेवनेटतकनीक पर करेगा काम: गूगल असिस्टेंस का यह नया संस्करण वेवनेट नामक तकनीकी मशीन लर्निंग टेक्नोलॉजी पर बनाया गया है जिसे कंपनी ने 18 महीने पहले डेवलप करना शुरू किया था। अब कमांड देने लिए हर बार “हे गूगल” या “ओके गूगल” कहने के बजाय यूजर्स को केवल एक बार ऐसा करना होगा और फिर असिस्टेंस के साथ बातचीत करनी होगी। गूगल के इस सुविधा को “निरंतर वार्तालाप” का नाम दिया गया है और यह आने वाले सप्ताह में शुरू हो जाएगी। नया असिस्टेंस अब दो वाक्यों के बीच अंतर कर सकता है और एक ही समय में दो अलग-अलग क्वेरी-विशिष्ट उत्तरों के साथ जवाब दे सकता है।

असिस्टेंस के जरिए भी कर सकेंगे मैप का इस्तेमाल : गूगल अपने डिवाइस असिस्टेंस को हर डिवाइस और एप में बंडल करना चाहता है और गूगल मैप में गूगल असिस्टेंस को जोड़ा जा रहा है। जल्द ही ये फीचर्स आईओएस और एंड्रॉइड पर उपलब्ध होगें। यूजर्स अब अपने डिवाइस को छूए बिना ही अपने कॉन्टेक्टस को आगमन के अनुमानित समय को साझा कर सकते हैं। इसके अलावा असिस्टेंस जल्द ही आपको रेस्तरां या सैलून को बुक करने के लिए कॉल कर सकेगा। इसले अलावा यह बच्चों को विनम्र भाषा का उपयोग करना भी सिखाएगा। जब बच्चे कमांड के दौरान “कृपया” कहते हैं, तो उन्हें प्रतिक्रिया में इस वर्चुअल असिस्टेंस से धन्यवाद प्राप्त होगा। जो इस साल तक लॉन्च किया जाएगा। इतना ही नहीं कंपनी अस्सिटेंस के जरिए ऑपरेट होने वाले स्मार्ट डिस्प्ले को भी लॉन्च करने की तैयारी में है।

Gmail में जुड़ेगा स्मार्ट कम्पोजफीचर : कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदर पिचाई ने गूगल असिस्टेंस के जरिए ऑपरेट होने वाले स्मार्ट कंपोज जी-मेल के बारे में भी जानकारी दी। इस नई सुविधा के जरिए यूजर्स मशीन लर्निंग टेक्नोलॉजी का उपयोग करके ईमेल लिख सकेंगे। जैसे ही आप टाइप करेंगे तो स्मार्ट कंपोज आपको सुझाव देगा कि आप आगे क्या लिखना चाहेंगे। यह ठीक उसी तरह काम करेगा जिस तरह से गूगल ऑटोकम्पलीट काम करता है। इसके लिए यूजर्स को बस हिट टैब प्रेस करना होगा। गूगल का यह फीचर इसी महीने तक यूजर्स के लिए उपलब्ध हो जाएगा।

संबंधित पोस्ट